इंटरनेट पर सर्फिंग करते समय खुद को सुरक्षित और सुरक्षित रखने के लिए 5 टिप्स

सुरक्षित ऑनलाइन रहने के तरीके

हमने Shoutmeloud पर एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर पर कई लेख लिखे हैं। इस तरह के एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर के बारे में आपको जागरूक करने के पीछे मुख्य एजेंडा आपके ऑनलाइन सर्फिंग को सुरक्षित बनाना है।

हालाँकि, आपके सिस्टम पर एंटी-वायरस डाउनलोड करना पर्याप्त नहीं है। आपको अपने सिस्टम को अन्य खतरों से सुरक्षित करने की आवश्यकता है जो आपके सिस्टम से आपके व्यक्तिगत विवरण या गोपनीय दस्तावेजों को आसानी से हैक कर सकते हैं। यदि आप इंटरनेट से जुड़े हैं, तो संभावना है कि आप हैकिंग की समस्या का सामना कर सकते हैं।

इंटरनेट पर सुरक्षित रहने के सर्वोत्तम तरीके: वेब सुरक्षा युक्तियाँ

समान पासवर्ड का उपयोग करने से बचें

हममें से ज्यादातर लोगों को अपने सभी सोशल मीडिया, ईमेल या बैंक खातों के लिए एक ही पासवर्ड चुनने की आदत होती है। समान पासवर्ड चुनने का कारण यह है कि हमारे सभी महत्वपूर्ण खातों के लिए पासवर्ड याद रखना आसान हो जाता है। हालांकि, एक ही पासवर्ड का उपयोग करने का नकारात्मक पक्ष यह है कि यदि किसी एक साइट से छेड़छाड़ की जाती है, तो हैकर्स आसानी से आपके सभी अन्य खातों का पासवर्ड पा सकते हैं।

अलग-अलग पासवर्ड का उपयोग करने का प्रयास करें या शायद पासवर्ड के विभिन्न रूपों का उपयोग करें जो इसे और अधिक सुरक्षित बना देगा और याद रखना भी आसान होगा। मैं एक पासवर्ड मैनेजर का उपयोग कर रहा हूं और अनुशंसा करता हूं। एक पासवर्ड मैनेजर हर वेबसाइट के लिए एक मजबूत और अनोखा पासवर्ड बनाने में मदद करता है और आपको उन सभी को याद नहीं रखना है। आप यहां पासवर्ड मैनेजर का उपयोग करने के मेरे अनुभव को पढ़ सकते हैं।

केवल सुरक्षित वेबसाइटों और आधिकारिक ऐप स्टोर से डाउनलोड करें

ऑनलाइन सैकड़ों वेबसाइटें उपलब्ध हैं जो आपको मुफ्त सॉफ्टवेयर प्रदान करती हैं। और जब आप अविश्वसनीय वेबसाइटों से डाउनलोड करना चुनते हैं, तो आप अपनी ऑनलाइन सुरक्षा को जोखिम में डाल रहे हैं।

क्या आपने कभी सोचा है कि आपको ये सभी सशुल्क सॉफ़्टवेयर मुफ्त में कैसे और क्यों मिलते हैं?

आप कह सकते हैं कि बहुत सारे उपयोगकर्ता मुफ्त में सशुल्क सामान वितरित करना पसंद करते हैं, और आप सही हो सकते हैं। हालांकि, इस के मिश्रण में, हैकर्स हैं जो इन सशुल्क सॉफ़्टवेयर ऐप, मूवी आदि को मुफ्त में जारी करते हैं और इसके साथ एक पिछले दरवाजे को एम्बेड करते हैं। जिस क्षण आप उन फ़ाइलों को खोलते हैं, हैकर्स को आपके सिस्टम में पिछले दरवाजे की सुविधा भी मिलती है।

यदि आप कोई ऐसा व्यक्ति हैं जो आपकी तस्वीरों, वित्तीय इतिहास, बिटकॉइन निजी कुंजी या इसी तरह के सामान सहित संवेदनशील डेटा रखता है, जो आपको नुकसान पहुंचा सकता है, तो वेयरज़ वेबसाइट का उपयोग करने से खुद को रोकें। मुझे पता है कि यह करना एक कठिन बात है, लेकिन आपको जोखिम बनाम इनाम पर विचार करना चाहिए।

यदि आपके लिए यह आवश्यक है, उदाहरण के लिए, फ़िल्में देखने के लिए, Vmware या कुछ इसी तरह के टूल का उपयोग करके वर्चुअल वातावरण बनाएं।

अनजान लिंक पर क्लिक करने से बचें

हम सभी को स्पैम ईमेल या अज्ञात ईमेल मिलते हैं, जिनका वेबसाइटों से आंतरिक संबंध होता है। इन लिंक पर क्लिक करने से बचें। वे आपके कंप्यूटर पर वायरस फैला सकते हैं और परिणामस्वरूप आपके सभी खातों और पासवर्डों की हैकिंग हो सकती है। इन दिनों वेबसाइटों / ब्लॉगों के लिंक फैलाने के लिए छोटे URL का उपयोग किया जाता है, लेकिन केवल उन लिंक पर क्लिक करें जो आपको विश्वसनीय संसाधनों से मिलते हैं।

एंटी वायरस

यह याद रखने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज है। आपके सिस्टम में एक अच्छा एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर डाउनलोड करना पर्याप्त नहीं है। अधिक महत्वपूर्ण यह है कि आप इसे नियमित रूप से अपडेट करते रहें। सबसे आसान तरीका है ऑटो अपडेट फीचर को “ऑन” रखना। हमेशा अपने एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर कंपनियों द्वारा भेजे गए अलर्ट का अनुसरण करता है। कई एंटी-वायरस के पास नए संस्करण को स्वचालित रूप से अपडेट करने का विकल्प होता है। आपको अपने सिस्टम को अधिक सुरक्षित बनाने के लिए उस विकल्प को सक्षम करना चाहिए। वहाँ कई महान एंटीवायरस हैं और आप Nod32 या Kaspersky से चुन सकते हैं। ये मेरे पसंदीदा हैं।

ऑनलाइन खरीदारी

सुरक्षा की बात आती है तो ऑनलाइन शॉपिंग बहुत जोखिम भरा है। अधिकांश ऑनलाइन शॉपिंग पोर्टल आपके पते, खाते और अन्य व्यक्तिगत विवरणों के लिए पूछते हैं जो आसानी से दूसरों द्वारा हैक किए जा सकते हैं। केवल विश्वसनीय वेबसाइटों पर ऑनलाइन खरीदारी करने का प्रयास करें और कभी भी अपना व्यक्तिगत विवरण न दें।

इसके अलावा, लेनदेन करते समय सुनिश्चित करें कि ब्राउज़र https से जुड़ा है और http से नहीं।

प्रॉक्सी साइट और प्रॉक्सी सॉफ्टवेयर के उपयोग से बचें:

हम सभी जानते हैं कि प्रॉक्सी वेबसाइट और सॉफ्टवेयर जैसे अल्ट्रसर्फ हमें अवरुद्ध वेबसाइटों तक पहुंचने देते हैं और वे बहुत उपयोगी हैं। हालांकि, सबसे बड़ी ऑनलाइन गलतियों में से एक है जो हम इन प्रॉक्सी चैनलों पर संवेदनशील डेटा का उपयोग करके करते हैं। फेसबुक, बैंक विवरण या ईमेल खाते जैसी साइटों का उपयोग करना जहां आपको अपना पासवर्ड प्रदान करने की आवश्यकता होती है, आपको असुरक्षित छोड़ सकता है। बल्कि, वीपीएन टूल का उपयोग करें जो अधिक विश्वसनीय हैं और केवल विश्वसनीय वीपीएन सेवाओं का उपयोग करें। यहां कुछ बेहतरीन वीपीएन सेवाएं दी गई हैं।

अवरुद्ध साइटों तक पहुँचने के लिए प्रॉक्सी साइटों का उपयोग करें लेकिन किसी भी संवेदनशील साइट में प्रवेश करने के लिए उनका उपयोग न करें। इससे पहले कि आपका सिस्टम हैक हो जाए या आप अपना संवेदनशील डेटा खो दें, मैं आपको अत्यधिक सुरक्षा उपायों को प्रभाव में लाने और इंटरनेट सर्फिंग के दौरान खुद को सुरक्षित रखने के लिए अत्यधिक सलाह दूंगा।

हमारे ब्लॉग के लिए सुरक्षा हमेशा महत्वपूर्ण है। आप अपने सिस्टम को हैकर्स से कैसे सुरक्षित करते हैं? हमारे साथ साझा करें

इसके अलावा, आगे पढ़ने के लिए यहां कुछ चुनिंदा गाइड दिए गए हैं:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top